निर्माणाधीन ग्रीन बिल्डिंग की साइट पर पहुंचे मंत्री अग्रवाल, दीवार गिरने के मामले पर जांच के लिए मेटेरियल का सैंपल भरा

0
61
investigation on wall collapse

investigation on wall collapse

देहरादून। स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के अंतर्गत चल रहे ग्रीन बिल्डिंग के निर्माण कार्य को लेकर आज विभागीय मंत्री डॉ प्रेमचंद अग्रवाल ने साइट का निरीक्षण किया। डॉ अग्रवाल ने बीते दिनों ग्रीन बिल्डिंग से जुड़ी एक दीवार के गिरने के मामले पर मौके से निर्माण कार्य में उपयोग में ले जा रहे मेटेरियल का सैंपल टेस्टिंग के लिए भरवारा। इस दौरान डॉ अग्रवाल ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि निर्माण के दौरान यहां एक अधिकारी अपनी ड्यूटी लगाए, जिससे एजेंसी अपना काम तय समय पर और गुणवत्ता के साथ कर सके।

गुरुवार को डॉ अग्रवाल निर्माणाधीन ग्रीन बिल्डिंग की साइट पर पहुंचे। यहां उन्होंने अधिकारियों से निर्माण कार्य की जानकारी मांगी। मौजूदा अधिकारियों ने बताया कि नवंबर 2025 तक ग्रीन बिल्डिंग का कार्य पूर्ण कर लिया जाएगा। इसके लिए 80 प्रतिशत बेसमेंट की खुदाई का काम पूर्ण कर लिया गया है।

डॉ अग्रवाल ने मौके पर बीते दिनों दीवार करने के संबंध में जानकारी जुटाई और जो मेटेरियल निर्माण कार्य में तैयार किया जा रहा था, उसकी जांच के लिए सैंपल भरवारा और टेस्टिंग के लिए भेजा। डॉ अग्रवाल ने अधिकारियों को अपनी-अपनी ड्यूटी साइट पर लगाने के लिए कहा। जिससे एजेंसी अपना कार्य सुचारू रूप से ठीक समय के भीतर और गुणवत्ता के साथ करें।

डॉ अग्रवाल ने बताया कि लगभग 204 करोड़ रूपए की लागत से ग्रीन बिल्डिंग का कार्य किया जा रहा है। जिसमें जी प्लस टू प्लस सिक्स का कार्य किया जाना है। उन्होंने बताया कि 18 माह के भीतर इस प्रोजेक्ट को पूर्ण किया जाएगा। इसमें 80 विभागों को शिफ्ट किया जाना है। उन्होंने कहा कि एक ही छत के नीचे सभी सरकारी विभाग काम करेंगे। इससे जनता के साथ ही अधिकारियों को भी एक साथ काम करने में सुविधा होगी।

इस मौके पर एसीईओ तीर्थ पाल सिंह, एसई जगमोहन सिंह चौहान, एजीएम आशीष सक्सेना, संजय दंडरियाल, ताराकांत नायक, आशीष मिश्रा, चिन्मय सिंह, क्षितिज जोहरी आदि उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here