गिफ्ट भेजने के नाम पर 16 लाख की धोखाधड़ी में मुख्य सरगना सहित दो अभियुक्त गिरफ्तार

0
64
In the name of sending a gift
देहरादून, 9 अक्टूबर। साइबर अपराधी आम जनता की गाढ़ी कमाई हड़पने हेतु अपराध के नये-नये तरीके अपनाकर धोखाधड़ी कर रहे है।

In the name of sending a gift

देहरादून, 9 अक्टूबर। साइबर अपराधी आम जनता की गाढ़ी कमाई हड़पने हेतु अपराध के नये-नये तरीके अपनाकर धोखाधड़ी कर रहे है। इसी परिपेक्ष्य में ठगों द्वारा फेसबुक व व्हट्सएप पर विदेशी नागरिक बनकर दोस्ती कर In the name of sending a gift लाखों रुपये की धोखाधडी की जा रही है।

एक प्रकरण कोतवाली लक्सर जनपद हरिद्वार पर शिकायत प्राप्त हुयी जिसमें शिकायतकर्ता राजकुमार निवासी लक्सरी वार्ड नम्बर 5 कोतवाली लक्सर जनपद हरिद्वार को फेसबुक व वट्सएप के माध्यम से सम्पर्क कर कैथोलिक नन बताते हुए दोस्ती कर चैट कर व शिकायतकर्ता के काम से प्रभावित होकर गिफ्ट (घड़ी, आईफोन 13, आई पैड, एप्पल लैपटॉप सोनी की माला व 50000 डॉलर) भेजने का लालच देकर पार्सल को इन्टरनैशल एयरपोर्ट पर भिजवाना व पार्सल छुड़वाने हेतु भिन्न-2 ट्रांजेक्शन के माध्यम से कुल 15,71,820/- रु0 की धोखाधडी कर लेने सम्बन्धी शिकायत के आधार पर कोतवाली लक्सर जनपद हरिद्वार पर मु0अ0स0 1035/22 धारा 420 भादवि बनाम अज्ञात का अभियोग पंजीकृत किया गया तथा विवेचना मुख्यालय के आदेशानुसार साइबर थाने के निरीक्षक विकास भारद्वाज के सुपुर्द की गयी।

अभियोग में अभियुक्तों के विरुद्ध कार्यवाही हेतु गठित टीम द्वारा विस्तृत तकनीकी जांच के बाद संदिग्ध अभियुक्त का बहराइच उ0प्र0 से सम्बन्ध होना पाया गया। जिसमें टीम को सम्बन्धित स्थानों को रवाना किया गया।

In the name of sending a gift
देहरादून, 9 अक्टूबर। साइबर अपराधी आम जनता की गाढ़ी कमाई हड़पने हेतु अपराध के नये-नये तरीके अपनाकर धोखाधड़ी कर रहे है।

In the name of sending a gift उ0प्र0 के बहराइच से किया गिरफ्तार :-

पुलिस टीम द्वारा अथक मेहनत एवं प्रयास से साक्ष्य एकत्रित करते हुये अभियोग के मुख्य सरगना सहित उसके सदस्य 1. शिवम तिवारी पुत्र मुल्कराज तिवारी निवासी ग्राम फकरपुर बहराइच थाना फकरपुर जनपद बहराइच उ0प्र0 उम्रः- 22 वर्ष व 2. रामनरेश पुत्र मिश्री लाल निवासी ग्राम परसीपुरवा थाना मुर्तीआ जनपद बहराइच उ0प्र0 उम्रः- 23 वर्ष को गैर प्रान्त उ0प्र0 के बहराइच से गिरफ्तार किया गया।

अभियुक्त से घटना में प्रयुक्त 14 चैक बुक विभिन्न बैंको की, 6 पासबुक विभिन्न बैंकों की, 6 एटीएम कार्ड विभिन्न बैंकों के, 01 अदद लैपटॉप एचपी कम्पनी का व आधार कार्ड पैन कार्ड आदि बरामद किये गये ।

अपराध का तरीका:

अभियुक्तगण द्वारा सोशल मीडिया साईट फेसबुक व व्हटस्एप पर फर्जी प्रोफाईल तैयार कर दोस्ती करते हुए स्वंय को विदेशी नागरिक बताकर महँगे गिफ्टों को भेजने का लालच देकर पार्सल को एयरपोर्ट से छुडाने हेतु विभिन्न शुल्कों के नाम पर धोखाधड़ी से भिन्न-भिन्न लेन देन के माध्यम से धनराशि प्राप्त करते है व धोखाधडी से प्राप्त धनराशि को विभिन्न बैक खातो में प्राप्त कर उक्त धनराशि का प्रयोग करते है। अभियुक्तगणो द्वारा उक्त कार्य हेतु फर्जी सिम, सोशल मीडिया प्रोफाईल तथा फर्जी खातों का प्रयोग कर अपराध कारित किया जाता है ।

STF SSP की जनता से अपील :

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एस0टी0एफ0 उत्तराखण्ड आयुष अग्रवाल द्वारा जनता से अपील की है कि वे किसी भी प्रकार के लोक लुभावने अवसरो/फर्जी साइट/धनराशि दोगुना करने व टिकट बुक करने वाले अंनजान अवसरो के प्रलोभन में न आयें ।

साथ ही, सभी से अपील है कि वे फर्जी निवेश ऑफर जैसे Youtube like सब्सक्राइब, टेलीग्राम आधारित निवेश वेबसाइट ऑफर में निवेश न करें व किसी भी अन्जान व्यक्ति के सम्पर्क में न आये अथवा न ही किसी भी अन्जान व्यक्ति से सोशल मीडिया पर दोस्ती न करें।

किसी भी प्रकार के ऑनलाईन जॉब हेतु एप्लाई कराने से पूर्व उक्त साईट का पूर्ण वैरीफिकेशन सम्बन्धित कम्पनी आदि से भलीं भांति इसकी जांच पड़ताल अवश्य करा लें तथा गूगल से किसी भी कस्टमर केयर नम्बर सर्च न करें व शक होने पर तत्काल निकटतम पुलिस स्टेशन या साइबर क्राईम पुलिस स्टेशन को सम्पर्क करें । वित्तीय साईबर अपराध घटित होने पर तुरन्त 1930 नम्बर पर सम्पर्क करें ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here